0

श्री विष्णु ध्यान मंत्र – Shri Vishnu Dhyan Mantra

श्री विष्णु रूपम ध्यान मंत्र: पूजा स्थल अथवा किसी भी शांत और चित्त को प्रसन्न करने वाला स्थल पर, आँखें बंद कर (अथवा खुली आँखों से) आराम से बैठ जाएँ और भगवान विष्णु का ध्यान करते हुए, निम्न मंत्र का उच्चारण करें| इस मंत्र द्वारा हम भगवन… Continue Reading

0

शान्ताकारं भुजगशयनं पद्मनाभं सुरेशं

श्री विष्णु रूपम ध्यान मंत्र: पूजा स्थल अथवा किसी भी शांत और चित्त को प्रसन्न करने वाला स्थल पर, आँखें बंद कर (अथवा खुली आँखों से) आराम से बैठ जाएँ और भगवान विष्णु का ध्यान करते हुए, निम्न मंत्र का उच्चारण करें| इस मंत्र द्वारा हम भगवन… Continue Reading

0

श्री गणेश चालीसा (2nd)

  चालीसा “चालीसा” हिंदी के शब्द “चालीस” से लिया गया है, ठीक वैसे ही जैसे, अंग्रेज़ी में सोननेट (14 पंक्तियों) और लिमेरिक (5 पंक्तियों) की तथा तमिल में वेन्बा (4 पंक्तियों) और कुरल्पा (2 पंक्तियों) की होती है। इसलिए चालीसा… Continue Reading

0

Shri Ganesha Chalisa (1st)

Chalisa Chalisa came from word “chalis”, which means forty in hindi, just like the Sonnet (14 lines) and the Limerick (5 lines) in English or Venba (4 lines) and Kuralpa (2 lines) in Tamil. Therefore there are exactly forty Chopaayis (verses)… Continue Reading

0

श्री गणेश चालीसा (1st)

चालीसा “चालीसा” हिंदी के शब्द “चालीस” से लिया गया है, ठीक वैसे ही जैसे, अंग्रेज़ी में सोननेट (14 पंक्तियों) और लिमेरिक (5 पंक्तियों) की तथा तमिल में वेन्बा (4 पंक्तियों) और कुरल्पा (2 पंक्तियों) की होती है। इसलिए चालीसा में… Continue Reading